25.5 C
Ratlām

धार : प्रेमिका ने डॉक्टर बनाया, खर्च किये 46 लाख फिर प्रेमिका को धोखा दे कर हो गया प्रेमी डॉक्टर फरार

शादी का झांसा देकर 10 वर्षो तक करता रहा महिला मित्र के साथ दुष्कर्म, आरोपी डॉक्टर फरार, अपने प्रेमी को डाक्टर बनाने सहित कार, बाईक व मकान बनाने के लिए प्रेमिका ने खर्च किए 46 लाख रुपये

धार : प्रेमिका ने डॉक्टर बनाया, खर्च किये 46 लाख फिर प्रेमिका को धोखा दे कर हो गया प्रेमी डॉक्टर फरार
फरार आरोपी डॉक्टर दिलीप ठाकुर

धार (धरमपुरी)/इंडियामिक्स : दुष्कर्म का एक सनसनीखेज मामला सामने आया है। जिसमें आरोपी डॉक्टर, शादी का झांसा देकर 10 वर्षों तक शिक्षिका युवती का शारीरिक शोषण करता रहा। 21 जून को आरोपी दूसरी लड़की से ब्याह भी रचा लिया। आरोपी के मामा से पीड़िता के परिवार को सूचना मिली। जिसके बाद पीड़िता ने अपने पिता के साथ जाकर थाने पर आरोपी डॉक्टर के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज करवाई। आरोपी डॉक्टर फरार है।

धरमपुरी थाना क्षेत्र के पगारा जामन्या निवासी दिलीप पुत्र श्याम ठाकुर युवती के पास वाले मकान में रहता था। दोनों पढ़ाई में अच्छे थे व साथ ही पढ़ते थे। दोनों एक दूसरे को पसंद करते थे। एक ही समाज होने कारण दोनों परिवारों में नौकरी के बाद शादी की बात पर राजी थे। पीड़िता 2009 में 12 वीं पास कर शासकीय सेवा में शिक्षिका बन गई। जबकि आरोपी डॉक्टर बनना चाहता था। पीड़िता ने पुलिस जानकारी में बताया कि आरोपी दिलीप को एमबीबीएस और पीजी करने के लिए अपने वेतन से खर्च किया व उसे डॉक्टर बनाया। वही उसे महंगी बाईक और 10 लाख की कार भी लोन लेकर दिलवाई। 2010 से 2019 तक आरोपी डाक्टर पीड़िता के साथ लगातार शादी का झांसा देकर शारीरिक सम्बन्ध बनाता रहा। पीड़िता ने गांव में आरोपी के टापरिनुमा कच्चे मकान को करीब 8 से 10 लाख खर्च कर पक्का बनवाने की मदद की। बताया गया कि पीड़िता अपने प्रेमी आरोपी डाक्टर पर करीब 46 लाख खर्च कर चुकी है। लेकिन 2017 में डॉक्टर बनने के बाद आरोपी करुणा हॉस्पिटल सेंधवा में बतौर चाइल्ड स्पेशलिस्ट नौकरी भी करने लगा। इसके बाद आरोपी ने पीड़िता को शादी से इंकार करने लगा। पीड़िता और परिवाजनों ने आरोपी को मनाने की कोशिश भी की, लेकिन आरोपी ने बात करना ही बन्द कर दी। 21 जून 2021 को आरोपी डॉ दिलीप ठाकुर ने किसी अन्य लड़की से ब्याह रचा लिया। इसकी भी जानकारी आरोपी के मामा से पीड़िता के परिवार को मिली। जिसके बाद पीड़िता ने अपने पिता के साथ थाना धरमपुरी पर जाकर 29 जुन को रिपोर्ट दर्ज करवाई। अब डॉक्टर फरार है। पीड़िता अब आरोपी डॉक्टर को सजा करवाने के साथ उसका मेडिकल काउंसिल से रजिट्रेशन रद्द करवाने पर अड़ी है।

इस संबंध में टीआई लोकेश भदौरिया ने बताया कि आरोपी डाक्टर सेंधवा से फरार है। जिसके तलाश की जा रही है। जल्द ही हम उसे गिरफ्तार कर लेंगे।

Please enable JavaScript in your browser to complete this form.
Name
Latest news
Related news