रतलाम : कांग्रेस नेत्रियों पर प्रकरण दर्ज, यति नरसिम्हानन्द के पोस्टर पर चप्पल मारना पड़ा भारी

A+A-
Reset

प्रदेश कांग्रेस की महिला नेत्री यास्मीन शेरानी के खिलाफ जमकर लगे नारे,8 महिला कांग्रेस नेत्रियों समेत शहर कांग्रेस अध्यक्ष पर धार्मिक भावनाएं आहत करने का प्रकरण दर्ज, थाने की दीवार पर पोस्टर चिपका जूते-चप्पल मारना पड़ा भारी

रतलाम : कांग्रेस नेत्रियों पर प्रकरण दर्ज, यति नरसिम्हानन्द के पोस्टर पर चप्पल मारना पड़ा भारी
चर्चा करते एसडीएम व सीएसपी.

रतलाम/इंडियामिक्स : आज दोपहर में थाना स्टेशन रोड़ पर रतलाम शहर कांग्रेस के कार्यकर्ताओं को डासना उत्तरप्रदेश के चर्चित संत यति नरसिम्हादास सरस्वती के महिलाओं पर दिए गए विवादित बयान के वायरल वीडियो पर प्रदर्शन करना उस समय भारी पड़ गया, जब हिन्दू संगठनों ने इस पर आपत्ति लेते हुए अचानक शाम 7 बजे थाना स्टेशन रोड का घेराव कर दिया। हिन्दू संगठनों के पदाधिकारियों का कहना था की ज्ञापन देना ठीक था मगर सन्त के पोस्टर पर जुते मारना बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। मामले में पुलिस के माथे पर तब सल आ गए, जब हिन्दू संगठनों के कार्यकर्ताओ ने पुलिस को जमकर खरी खरी सुनाई। उनके अनुसार यह पूरा घटनाक्रम थाने के बाहर हुआ व जिस दीवार पर पोस्टर लगाकर यह काम किया गया वह थाने की दीवार है। तो पुलिसकर्मियों ने कांग्रेस कार्यकर्ताओं को रोका क्यों नहीं ? तीन घण्टे तक चले हंगामे के बीच पुलिस को आखिरकार शहर कांग्रेस अध्यक्ष समेत 8 महिला नेत्रियों पर धार्मिक भावनाएं भड़काने का प्रकरण दर्ज करना ही पड़ा।

पूरे घटनाक्रम में थाने पर देखते ही देखते लगभग दो-सौ हिन्दू कार्यकर्ता, कांग्रेस के खिलाफ नारेबाजी करते हुए प्रकरण दर्ज करने की मांग करने लगे। स्टेशन रोड़ थाना प्रभारी किशोर पटनवाला जैसे तैसे समझाईश में लगे रहे। मगर कार्यकर्ता नहीं माने।जिसके बाद मामला बढ़ता देख मौके पर शहर एसडीएम अभिषेक गेहलोत व सीएसपी हेमंत चौहान ने आकर मामला शांत करने की कोशिश की मगर बात नही बनी।

सीएसपी व एसडीएम के कहने पर हिन्दू संगठन के पदाधिकारी राजेश कटारिया, राघव त्रिवेदी, रवि निंधाने, आशीष सोनी आदि थाना प्रभारी कक्ष में पहुँचे व कायमी करने को लेकर तीखी बहसबाजी का दौर चला। जिसमे पदाधिकारियों ने कार्यवाही नहीं करने पर रतलाम बन्द करने तक कि चेतावनी अधिकारियों को दे दी। कार्यवाही कैसे व किन धाराओं में की जाए इसको लेकर काफी लंबा विचार पुलिस को करना पड़ गया।इस पूरे मामले में लंबे समय बाद हिन्दू संगठनों के कारण पुलिस के माथे पर सल देखे जा सकते थे। प्रकरण करने व नहीं करने वाली असमंजस की स्थिति ने काफी देर तक मामला गरमाये भी रखा।

रतलाम : कांग्रेस नेत्रियों पर प्रकरण दर्ज, यति नरसिम्हानन्द के पोस्टर पर चप्पल मारना पड़ा भारी
इस पर हुआ विवाद.

आखिरकार दबाव में पुलिस प्रशासन ने आपसी कानूनी सलाह मशवरा कर कांग्रेस के कार्यकर्ताओं पर सेक्शन 295 (ए) व 147 के तहत एफआईआर दर्ज की गई। थाने के बाहर एकत्रित भीड़ ने जमकर महिला कांग्रेस की प्रदेश नेत्री यास्मीन शेरानी के विरोध में नारे लगाए। पूरे मामले में पुलिस ने शहर कांग्रेस अध्यक्ष महेंद्र कटारिया, प्रदेश महिला कांग्रेस कार्यकारी अध्यक्ष यास्मीन शेरानी, मीना बग्गा, निशा विजय एडना, कुसुम चाहर, हेमलता व्यास, रश्मि सिंह, शिल्पा सिसोदिया, नजमा बैतूल व अन्य के खिलाफ मामला दर्ज कर विवेचना में लिया है।

आपको बता दे कि उत्तरप्रदेश के डासना में एक नाबलिक के साथ मन्दिर में मारपीट का वीडियो वायरल हुआ था। जिस पर वहाँ के यति नरसिम्हानन्द सरस्वती जमकर सुर्खियों में आये थे। एक बार अभी फिर उनका महिला नेताओ के खिलाफ अभद्र टिप्पणी वाला वीडियो वायरल हो रहा है। जिस पर कांग्रेस ने प्रदेश में आज विरोध दर्ज करवाया है।

वहिं इस पूरे मामले में भाजपा के कई दिग्गज नेताओं व महिला पदाधिकारीयो ने भी यति नरसिंहानन्द के विरोध में ट्वीट किए है। व कार्यवाही की मांग की है।

Rating
5/5

ये खबरे भी देखे

 

इंडिया मिक्स मीडिया नेटवर्क २०१८ से अपने वेब पोर्टल (www.indiamix.in )  के माध्यम से अपने पाठको तक प्रदेश के साथ देश दुनिया की खबरे पहुंचा रहा है. आगे भी आपके विश्वास के साथ आपकी सेवा करते रहेंगे

Registration 

RNI : MPHIN/2021/79988

MSME : UDYAM-MP-37-0000684

मुकेश धभाई

संपादक, इंडियामिक्स मीडिया नेटवर्क संपर्क : +91-8989821010

©2018-2023 IndiaMIX Media Network. All Right Reserved. Designed and Developed by Mukesh Dhabhai

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More

-
00:00
00:00
Update Required Flash plugin
-
00:00
00:00