उज्जैन : नकली सीबीआई अधिकारी बनकर लूट लिए सोने के आभूषण

A+A-
Reset

होटल संचालक ने बताया कि बदमाशों ने उनका तीन बत्ती चौराहे से पीछा किया था। नीलगंगा थाने में अज्ञात बदमाशों के खिलाफ 419, 420 के तहत प्रकरण दर्ज कराया

उज्जैन : नकली सीबीआई अधिकारी बनकर लूट लिए सोने के आभूषण
सांकेतिक फोटो : स्पेशल २६ फिल्म

उज्जैन / इंडियामिक्स न्यूज़ फ्रीगंज शिव मंदिर के पास स्थित होटल के संचालक से बिना नंबर की बाइक पर सवार होकर आए दो बदमाशों ने सीबीआई अधिकारी बनकर सोने के आभूषण उड़ा दिये। होटल संचालक ने बताया कि बदमाशों ने उनका तीन बत्ती चौराहे से पीछा किया था। नीलगंगा थाने में अज्ञात बदमाशों के खिलाफ 419, 420 के तहत प्रकरण दर्ज कराया जिसके बाद पुलिस ने सीसीटीवी कैमरों की मदद से बदमाशों की तलाश प्रारंभ की है।


संतोष सुखवानी पिता विरूमल 60 वर्ष निवासी संतराम सिंधी कॉलोनी की फ्रीगंज में लक्ष्मी विलास के नाम से होटल है। संतोष सुखवानी ने बताया कि मंगलवार दोपहर को वह अपनी एक्टिवा से घर के लिये रवाना हुए। तीन बत्ती चौराहे पर अज्ञात युवकों ने उन्हें आवाज देकर रोकना चाहा लेकिन वह नहीं रुके तो बाइक सवार युवकों ने उनका पीछा शुरू किया।

संतोष सुखवानी दोपहर 1 बजे घर के बाहर एक्टिवा वाहन खड़ा कर रहे थे उसी दौरान बिना नंबर की बाइक से दो बदमाश उनके पास आए। बाइक चलाने वाले युवक ने हेलमेट पहन रखा था जबकि पीछे बैग लेकर बैठे युवक ने मुंह पर कपड़ा बांध रखा था। युवकों ने स्वयं को सीबीआई अधिकारी बताया।

बाइक चलाने वाले ने जेब से आईडी निकालकर दूर से दिखाया और कहा कि इतने आभूषण पहनकर घूम रहे हो तुम्हें पता नहीं फ्रीगंज में मर्डर हो गया है। यह सुनकर संतोष सुखवानी कुछ मिनिट के लिये सकते में आये। इसी दौरान युवकों ने रूमाल निकाला और कहा जेब में रखे रुपये इसमें बांध लो उन्होंने रुपये रूमाल में बांधे तभी दूसरे युवक ने कहा कि सोने के आभूषण भी इसी में बांधों। संतोष सुखवानी ने गले से सोने की दो चैन, हाथ में पहना सोने का ब्रेसलेट और सोने की अंगूठी निकालकर उसी रूमाल में बांधने के लिये युवकों को दी। आभूषण बांधने के दौरान ही बदमाशों ने सोने के आभूषण उड़ा दिये और रुपयों को रूमाल में बांधकर संतोष सुखवानी को लौटा दिया। उन्होंने घर में प्रवेश करते हुए रूमाल खोलकर देखा तो उसमें सोने के आभूषण नहीं थे सिर्फ उन्हीं के 9030 रुपये बंधे थे।
संतोष सुखवानी ने बड़े भाई कमलकिशोर को घटना की जानकारी दी और स्वयं भी बदमाशों को तलाशने अपनी एक्टिवा से निकले, लेकिन बदमाशों का सुराग नहीं मिला जिसके बाद शाम करीब 5.20 बजे उन्होंने नीलगंगा थाने पहुंचकर धोखाधड़ी का प्रकरण दर्ज कराया। संतोष सुखवानी ने बताया कि उनके निवास अथवा आसपास के किसी भी मकान में सीसीटीवी कैमरे नहीं लगे हैं, शहर के प्रमुख चौराहों पर लगे पुलिस के कैमरों में बदमाश दिखे हैं जिनकी तलाश शुरू की गई है।


नौकर ने देखा बदमाशों को: संतोष सुखवानी ने बताया जब वह घर के बाहर बाइक सवारों से बात कर रहे थे उस समय होटल का नौकर चंद्रबहादुर पिता रामबहादुर घर आया था। उसने बाइक सवार युवकों को देखा भी था, लेकिन मामला समझ नहीं पाया।


सकते में आ गया था: होटल संचालक सुखवानी के अनुसार जब बाइक सवार युवकों ने स्वयं को सीबीआई अधिकारी बताया और फ्रीगंज में मर्डर होने की बात कही तो सकते में आ गया। कुछ समय के लिये दिमाग ने काम करना बंद कर दिया उसी दौरान बदमाशों ने हरकत की और आभूषण उड़ा दिये।


बदमाशों ने संतोष सुखवानी की दो सोने की चैन, एक ब्रेसलेट और एक सोने की अंगूठी उड़ाई जिसकी कीमत 3 लाख रुपये से अधिक बताई जाती है। संतोष सुखवानी ने बताया कि होटल पर सैकड़ों तरह के लोग आते जाते हैं, दुकान से घर लौटते समय जेब में 5-10 हजार रुपये रहते हैं, कभी रास्ते में नहीं रुकते और कल भी बदमाशों ने आवाज दी तो नहीं रुके लेकिन बदमाश पीछा कर घर के बाहर आये और धोखाधड़ी कर दी।

Rating
5/5

 

इंडिया मिक्स मीडिया नेटवर्क २०१८ से अपने वेब पोर्टल (www.indiamix.in )  के माध्यम से अपने पाठको तक प्रदेश के साथ देश दुनिया की खबरे पहुंचा रहा है. आगे भी आपके विश्वास के साथ आपकी सेवा करते रहेंगे

Registration 

RNI : MPHIN/2021/79988

MSME : UDYAM-MP-37-0000684

मुकेश धभाई

संपादक, इंडियामिक्स मीडिया नेटवर्क संपर्क : +91-8989821010

©2018-2023 IndiaMIX Media Network. All Right Reserved. Designed and Developed by Mukesh Dhabhai

-
00:00
00:00
Update Required Flash plugin
-
00:00
00:00