25.6 C
Ratlām

रतलाम : ऊपरी हवा से छुटकारे के लिए कर दी 2 हत्या, सनसनीखेज खुलासा

पत्नी ने बयान में कहा, ऊपरी हवा से मुक्ति के चक्कर में कर दी होम्योपैथी डॉक्टर व 3 वर्षीय बेटे की हत्या, 2 महिलाएं घायल जिनमें से 1 गंभीर, बहन और भांजी पर शंका

रतलाम : ऊपरी हवा से छुटकारे के लिए कर दी 2 हत्या, सनसनीखेज खुलासा
जांच करते एसपी व टीम

रतलाम IMN, जिले के शिवगढ़ थाना क्षेत्र के ठिकरिया गांव में सनसनीखेज हत्या का मामला सामने आया है। यहां ऊपरी हवा (जादू-टोने) से मुक्ति दिलाने के चक्कर में एक डॉक्टर और उसके तीन वर्षीय मासूम बच्चे की हत्या कर दी गयी। जबकि मारपीट में दो अन्य महिलाएं घायल हुई है। हत्याकांड में मृतक की बड़ी बहन व भांजी का नाम आ रहा है। यहां दो दिन बाद मृतक की एक बहन और एक भांजी की बारात आने वाली है लेकिन उससे पहले ही यहां मातम पसर गया। जादू-टोने के नाम पर हत्या का खुलासा जिला अस्पताल में भर्ती मृतक की पत्नी ने व एसपी गौरव तिवारी ने मीडिया से चर्चा में किया।

एसपी गौरव तिवारी के अनुसार शिवगढ थाना क्षेत्र के ग्राम ठिकरिया में 22 फरवरी को कन्हैयालाल खराड़ी के घर बेटी और नातिन की शादी होने वाली है। इसी दौरान गांव से किसी ने कॉल कर बताया कि खराड़ी के मकान के अदंर कुछ लोग हैं। सभी खिड़की-दरवाजे बंद कर पूजा-पाठ कर रहे हैं। इसमें एक की मृत्यु हो गई है जिसका शव ग्रामीण अस्पताल ले गए हैं। सूचना मिलते ही एसडीओपी व थाना प्रभारी टीम के साथ पहुंचे तो वहां मकान का दरवाजा बंद मिला। अंदर से अगरबत्ती की खुशबू आ रही थी। दस्तक देने पर किसी ने दरवाजा नहीं खोला तो पुलिस ने ग्रामीणों की मदद से दरवाजा खुलवाया। अंदर कमरे में तीन वर्षीय बच्चे के साथ मारपीट हो रही थी। पुलिस ने उसे अस्पताल भिजवाया जहां कुछ देर बाद ही उसने दम तोड़ दिया।

एसपी ने बताया हत्याकांड के पीछे जादू-टोने व अंधविश्वास की बात सामने आई है। मृतक की एक बडी बहन व भांजी ने झाड-फूंक के नाम पर मृतक राजाराम (23), उसके पुत्र आदर्श, पत्नी सीमा व मां थावरी के साथ मारपीट की। इसमें राजाराम व पुत्र आदर्श की जान चली गई जबकि सीमा व थावरी घायल हैं। दोनों महिलाएं जिला चिकित्सालय में भर्ती है। थावरी की स्थिति गंभीर बताई जा रही है। मामले में मृतक की बहन और भांजी सहित कुछ अन्य लोगों को हिरासत में लिया गया है जिनसे पुछताछ जारी है ।

जानकारी के अनुसार राजाराम के बीएचएमएस की डिग्री थी जो उसने पिछले वर्ष ही उत्तीर्ण की थी। जबकि पत्नी सीमा प्रशिक्षित नर्स है। राजाराम की मौत सिर में चोट लगने के कारण हुई जबकि तीन वर्षीय मासूम की मौत मुंह में लोहे की रॉड घुसेड़े जाने से हुई है।

ससुराल वालों को था सीमा पर जादू-टोना कराने का शक, झाड़-फूंक के लिए बुलाया था भोपा:-

जिला अस्पताल में भर्ती मृतक राजाराम की पत्नी सीमा ने मीडिया को बताया ससुराल वालों का कहना था कि उसने (सीमा ने) पति व परिवार वालों पर जादू-टोना करवा दिया है। इस जादू टोने या ऊपरी हवा से मुक्ति के लिए परिवार के लोगों ने झाड-फूंक करने वाले भोपा को बुलवाया था। भोपा ने सीमा को अलग कमरे में बन्द कर दिया और पति राजाराम व बच्चे आदर्श को दूसरे कमरे में रखा। सीमा का अनुमान है कि ऊपरी हवा का असर हटाने के लिए भोपा ने राजाराम व बच्चे से मारपीट की होगी। इस दौरान दोनों की मौत हो गई। इतना ही नहीं दूसरे कमरे में बंद सीमा के साथ भी मारपीट हुई जिससे वह घायल हो गई।

पीपल के पेड़ के पास जाने के बाद से कांप रहा था राजाराम:-

जिला अस्पताल में मौजूद मृतक राजाराम के भाई विक्रम ने बताया- उसके घर के पीछे पीपल का वृक्ष है। भाई राजाराम दो दिन पहले पीपल के पेड़ के पास गया था। इसके बाद वह कांपने लगा। अनाप-शनाब बातें व असामान्य हरकत करने लगा। उसकी कंपकपी बढने पर भोपे को बुलवाया था।

1 भाई और 8 बहने हैं मृतक राजाराम की:-

कन्हैयालाल खराड़ी के मृतक राजाराम के अलावा एक बेटा और आठ बेटियां हैं। बेटियों में से 6 विवाहित हैं। अविवाहित एक बेटी और विवाहित एक बेटी की बेटी की 22 को बरात आना है। इसके लिए परिवार के लोग घर में जुटे जिनमें दामाद, बेटियां, बेटा, बहू और अन्य रिश्तेदार आदि शामिल हैं। यहां 16 फरवरी से ही विवाह की रस्में शुरू हो गईं थीं। शनिवार को भी रस्में चल रहीं थी। तभी राजाराम अजीब-अजीब हरकतें करने लगा जिसके बाद इतनी बड़ी वारदात हो गई।

Please enable JavaScript in your browser to complete this form.
Name
Latest news
Related news