रतलाम : आतंक पर चला बुलडोजर, राजस्थान ATS द्वारा पकडे गए आरोपियों की पूरी कहानी

A+A-
Reset
google news

राजस्थान ATS द्वारा पकडे गए तीनो आतंकियों के घरो पर आज रतलाम प्रशासन ने बड़ी कार्यवाही करते हुए उनके घरो पर बुलडोजर चला दिए

रतलाम : आतंक पर चला बुलडोजर, राजस्थान Ats द्वारा पकडे गए आरोपियों की पूरी कहानी
मोहन नगर में आतंकी के घर बुलडोजर चला

इंडियामिक्स/रतलाम मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान आज कल अपने नए अवतार में नज़र आ रहे हैं “बुलडोजर मामा”. मामा जी आज कल प्रदेश के अपराधियों पर काफी शख्त नज़र आ रहे है. अब मुख्यमंत्री जी के इस अवतार से प्रेरणा लेकर प्रशासन भी बड़े पैमाने कार्यवाही करते नज़र आ रहा हैं.

रतलाम में गिरफ्तार किये गए सभी आरोपियों के घरो पर बुलडोजर चलाने की कार्यवाही शुरू कर दी गयी है और आगे भी इसे निरंतर जरी रखने की खबरे हमारे सूत्र दे रहे हैं. आज सुबह से प्रशासन मोहन नगर में आरोपियों के माकन पर बुलडोजर चलाया गया और इमरान नमक आरोपी के फार्महाउस पर भी कार्यवाही की सुचना मिली है . इसे आगे भी चलाया जा सकता हैं और भी आरोपियों के घरो और प्रतिष्ठानों पर प्रशासन कार्यवाही कर सकता हैं .

राजस्थान ATS द्वारा एक बड़ी साजिश को नाकाम किया गया हैं. ATS द्वारा राजस्थान के निम्बाहेडा जिले से 3 आतंकियों को 10 किलो RDX के साथ गिरफ्तार किया हैं . आरोप है की ये जयपुर में सीरियल ब्लास्ट की योजना बना कर उस पर काम कर रहे थे. इन आरोपियों की शिनाख्त जुबैर , अल्तमस और सैफुल्ला नमक व्यक्तियों के रूप में हुई जो की मध्यप्रदेश के रतलाम के बताये जा रहे थे.

इसकी सुचना रतलाम पुलिस को मिली तभी से रतलाम पुलिस हरकत में आई और उनसे जुड़े लोगो को पकड़ने के लिए लगातार सर्चिंग शुरू की. जिसमे मोचिपुरा, शैरानिपुरा, मोहन नगर आदि क्षेत्रो में दबिश देकर 2 आरोपियों को गिरफ्तार किया है और 60 लोगो को संदिग्ध मानकर पूछताछ के लिए थाने ले जाया गया था.

रतलाम में पोषित सूफा संघठन के तार 2 हत्याकांड से जुड़े है

तीनो आरोपी रतलाम के सूफा संघठन से जुड़े हैं जो कट्टरवाद फ़ैलाने के अलावा अन्य अपराध से भी जुड़े हैं. हलाकि अभी इसे प्रतिबंधित संघठन की सूचि में शामिल नही किया गया है. 2012-13 में सक्रीय हुआ था ये संघठन. माना जा रहा हैं कई सालो तक निष्क्रिय होने के बाद ये दुबारा सक्रीय हो रहा हैं. 2013 में बजरंग दल नेता कपिल राठौर और एक अन्य की हत्या से भी इनके तार जुड़े हुए बताये जा रहे हैं, 2017 तरुण सांकला नमक युवक की हत्या में भी इस संघठन का नाम चर्चा में आया था.

मामला क्या था ? क्या हुआ था

राजस्थान ATS की पूछताछ से पता चला की रतलाम के आमीन पिता असलम नामक युवक के घर से विस्फोटक लाया गया था जो की रतलाम से निम्बाहेडा होते हुए जयपुर ले जाने की योजना थी. सूफा संगठन के अध्यक्ष इमरान के कहने पर इस योजना को अंजाम दिया जा रहा था. विस्फोटक को जयपुर से 10 किलोमीटर दूर जमीं में छुपाने की योजना थी और बाकि घडी और अन्य सामान अन्य जगह छुपाकर आमीन को जुबैर के मोबाइल पर ( फोटो, लोकेशन ) भेजने का प्लान था.

अभी तक गिरफ्तार 3 आरोपियों में मुख्य सैफुल्ला है, जप्त की गयी बलेनो कार भी उस के रिश्तेदार की बताई जा रही हैं. सब कुछ कन्फोर्म होने के बाद इनकी योजना था की ये जखीरा वहां से निकलने के बाद असेम्बल कर जयपुर की तीन अलग अलग जगह ले जा कर विस्फोट करने की योजना थी.

कैसे पकडे गए आतंकी ?

निम्बाहेडा में डोडा चुना तस्करी की रोकथाम के लिए नाकाबंदी की गयी थी. पुलिस को मध्यप्रदेश की बलेनो चार ( MP43 CA7091 ) संदिग्ध लगी तो पुलिस ने उसे रोककर तलाशी ली और उसमे ये मामला सामने आया. आगे पूछताछ के लिए इन आरोपियों को राजस्थान ATS के हवाले कर दिया गया. इनसे पूछताछ के आधार पर 5 और लोगो की पहचान हुई जिनमे रतलाम के 2 टोक के 2 और 1 चित्तोड़गढ़ का बताया गया. सभी 5 आरोपी पकडे जा चुके हैं

आतंकियों के निशाने पर क्या क्या था ?

मॉल और टाकिज के आसपास बम रखने का प्लान था आतंकियों का, आमीन को भेजनी थी लोकेशन और विडियो ताकि बम रखने के बाद वहां दूसरी टीम भेज कर घटना को अंजाम दे सके.

Rating
5/5

 

इंडिया मिक्स मीडिया नेटवर्क २०१८ से अपने वेब पोर्टल (www.indiamix.in )  के माध्यम से अपने पाठको तक प्रदेश के साथ देश दुनिया की खबरे पहुंचा रहा है. आगे भी आपके विश्वास के साथ आपकी सेवा करते रहेंगे

Registration 

RNI : MPHIN/2021/79988

MSME : UDYAM-MP-37-0000684

मुकेश धभाई

संपादक, इंडियामिक्स मीडिया नेटवर्क संपर्क : +91-8989821010

©2018-2023 IndiaMIX Media Network. All Right Reserved. Designed and Developed by Mukesh Dhabhai

-
00:00
00:00
Update Required Flash plugin
-
00:00
00:00