रतलाम : शहर की समीक्षा बैठक में कलेक्टर का लहजा सख्त, अधिकारियों को सख़्त निर्देश

A+A-
Reset
google news

निगम आयुक्त व एसडीएम को कलेक्टर की दो टूक, कहा – लोगों के आने का इंतजार ना करें बल्कि कैंप लगाकर आयुष्मान कार्ड बनाए, शहर के कई मुद्दों पर कलेक्टर कुमार पुरुषोत्तम ने दिए सख्त निर्देश

रतलाम : शहर की समीक्षा बैठक में कलेक्टर का लहजा सख्त, अधिकारियों को सख़्त निर्देश
Collector Kumar Purushottam in Meeting With Officers

रतलाम/इंडियामिक्स : कलेक्टर श्री कुमार पुरुषोत्तम ने सोमवार को समयावधि पत्रों की समीक्षा बैठक में शहर एसडीएम तथा निगम आयुक्त को निर्देश दिए कि वे लोगों के आने का इंतजार ना करें बल्कि कैंप लगाकर आयुष्मान कार्ड बनाए ताकि लोगों को फायदा मिलने में विलंब नहीं हो। कलेक्टर ने निर्देश दिए कि उचित मूल्य की दुकानों पर स्थाई कैंप लगाएं जो लगभग 7 दिन का हो। शहर की समीक्षा के दौरान कलेक्टर ने कहा कि शहर के लगभग 30 वार्डों में ही मुख्य रूप से फोकस करना होगा जहां आयुष्मान कार्ड के पात्र व्यक्ति अधिकतर रहते हैं।

कलेक्टर ने निर्देश दिए कि डोर-टू-डोर कील कोरोना सर्वे के साथ ही आयुष्मान कार्ड बनाने का कार्य भी जारी रखा जाए, इससे मास्टर डाटा भी कलेक्ट हो सकेगा। साथ ही समय सीमा में कार्ड बनाने के लक्ष्य की पूर्ति हो सकेगी। कलेक्टर ने आयुष्मान कार्ड बनाने के लिए प्रतिदिन का लक्ष्य दिया। इस अनुसार शहर में प्रतिदिन ढाई हजार रतलाम ग्रामीण में 400, जावरा व पिपलोदा में 1500, आलोट में 1500, सैलाना में भी 1500 कार्ड प्रतिदिन बनाए जाना है। लक्ष्य अनुसार जिले में प्रतिदिन 7000 कार्ड बनेंगे।

कलेक्टर ने निर्देश दिए कि एक दिन पूर्व लोगों को बता दिया जाए कि कल आपका कार्ड आपकी उचित मूल्य दुकान पर बनाया जाएगा। आपूर्ति विभाग का इंस्पेक्टर प्रतिदिन शहर की दुकानों पर भ्रमण करे और समय सीमा सुबह 9: से 5 बजे तक दुकानें खुली रखवाए। मुख्यमंत्री हेल्पलाइन की भी समीक्षा की गई, संतुष्टि का प्रतिशत देखा। राजस्व विभाग को निर्देश दिया कि 20 जुलाई तक संतुष्टि सर्वोच्च लेवल पर दिखे। आलोट तहसीलदार को परफारमेंस सुधार के निर्देश दिए। कलेक्टर ने कहा कि मुख्यमंत्री हेल्पलाइन में जब तक संतुष्टि का स्तर 75 प्रतिशत नहीं होगा तब तक ए ग्रेड में विभाग नहीं आ सकता। मुख्यमंत्री हेल्पलाइन में पीएचई के परफॉर्मेंस पर नाराजगी व्यक्त की गई। कलेक्टर ने निर्देश दिए कि आगामी रेकिंग में राजस्व विभाग टॉप पर आए, ग्रामीण विकास टॉप फाइव में सम्मिलित हो।

कोविड-समीक्षा में कलेक्टर ने निर्देश दिए कि आगामी किसी भी लहर से निबटने के लिए पहले से पूर्व तैयारी जिले में रखी जाना है। बच्चों की केयर के लिए ट्रेंड स्टाफ होना चाहिए। बताया गया कि इस संबंध में ट्रेनिंग जारी है। कलेक्टर ने निर्देश दिए कि मैदानी अमले की ट्रेनिंग जिला चिकित्सालय में बुलाकर की जाए। मैदानी क्षेत्रों में प्राथमिक चिकित्सा केंद्रों पर पर्याप्त मात्रा में ऑक्सीजन सिलेंडर और बिस्तरों की व्यवस्था रखी जाए। प्रधानमंत्री कौशल केंद्र द्वारा भी चिकित्सा वालंटियर तैयार किए जा रहे हैं वहां कस्टमाइज ट्रेनिंग दी जा रही है। कलेक्टर ने निर्देश दिए कि प्राथमिक तथा सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्रों पर सभी बेड ऑक्सीजन युक्त हो।

सीएमएचओ को निर्देश दिए कि एक चेक लिस्ट बनाएं, हर एक स्वास्थ्य केंद्र का डाटा हो। प्लान करें कि राउंड द क्लॉक स्टाफ की उपलब्धता हो, सभी आंगनवाड़ी कार्यकर्ता भी प्रशिक्षित की जाना है। कलेक्टर ने कहा कि इस बार यदि तीसरी लहर आती है तो हमारी तैयारी रहेगी कि हम ग्रास रूट लेवल पर ही शुरुआत से काम कर सकेंगे। वृक्षारोपण अभियान की समीक्षा करते हुए निर्देश दिए कि सभी स्कूलों में शनिवार को व्यापक वृक्षारोपण किया जाए। रतलाम के हनुमान ताल पर बुधवार को प्रातः 9:30 बजे वृक्षारोपण किया जाएगा। बताया गया कि नेशनल हाईवे विभाग 10 हजार पौधे लगा रहा है।

बैठक में कलेक्टर ने निर्देश दिए कि रोजगार मेले हर एक विकासखंड पर आयोजित करना है, चालू माह में प्रत्येक विकासखंड में कम से कम एक एक रोजगार मेला आयोजित करना है। सभी एसडीएम को निर्देश दिए कि रोजगार मेलो को प्लान करें, नोडल अधिकारी आईटीआई प्राचार्य को निर्देश दिए शहर में बड़ा रोजगार मेला करना है। इसके अलावा जिले में आयोजित होने वाले रोजगार मेलों के लिए सभी एसडीएम से बात करें। बताया गया कि स्वास्थ्य विभाग के तहत में जिले के 53 गांवों में स्वास्थ्य केंद्रों के लिए भूमि चिन्हित की जाना है, इसके लिए सभी बीएमओ अपने एसडीएम, तहसीलदार से समन्वय करके भूमि चिन्हित करेंगे। बैठक में जीएमडीआईसी को निर्देश दिए रतलाम औद्योगिक क्षेत्र में बढ़ते अतिक्रमण को रोकने के लिए भ्रमण करके रिपोर्ट प्रस्तुत करें। परियोजना अधिकारी शहरी विकास को निर्देश दिए कि संकल्प से सिद्धि योजना की सतत मानिटरिंग कर के प्रतिदिन रिपोर्ट प्रस्तुत करें।

Rating
5/5

 

इंडिया मिक्स मीडिया नेटवर्क २०१८ से अपने वेब पोर्टल (www.indiamix.in )  के माध्यम से अपने पाठको तक प्रदेश के साथ देश दुनिया की खबरे पहुंचा रहा है. आगे भी आपके विश्वास के साथ आपकी सेवा करते रहेंगे

Registration 

RNI : MPHIN/2021/79988

MSME : UDYAM-MP-37-0000684

मुकेश धभाई

संपादक, इंडियामिक्स मीडिया नेटवर्क संपर्क : +91-8989821010

©2018-2023 IndiaMIX Media Network. All Right Reserved. Designed and Developed by Mukesh Dhabhai

-
00:00
00:00
Update Required Flash plugin
-
00:00
00:00