25.6 C
Ratlām

रतलाम : मुस्लिम क्षेत्रो मे टीकाकरण की रफ्तार धीमी, प्रशासन चिंता में

शहर में मुस्लिम समुदाय के प्रभावशाली व प्रबुद्ध लोगो की बैठक मंगलवार को हुई, बैठक में मुस्लिम बहुल क्षेत्रो में टिकाकरण की दर में वृद्धि लाने की अपील, प्रश्न यह भी आखिर क्यों मुस्लिम समुदाय में जागरूकता का अभाव ?

रतलाम : मुस्लिम क्षेत्रो मे टीकाकरण की रफ्तार धीमी, प्रशासन चिंता में
File Photo

रतलाम/इंडियामिक्स : मुस्लिम समुदाय के बहुल क्षेत्रो में टिकाकरण की दर ने प्रशासन को चिंता में डाल रखा है। दरअसल रतलाम शहर में 45 से अधिक वर्ष की आयु के 80 हजार लोगों के टीकाकरण का लक्ष्य प्रशासन द्वारा लिया गया है, जो कि अब तक 22 हजार ही पहुँच पाया है। इसके अलावा 18 वर्ष से अधिक वालो के लिये यह लक्ष्य 1 लाख 50 हजार का रखा गया है जो की केवल 32 हजार तक जा सका है। ऐसे में अब चिंता बढ़ना वाजिब है। इसका मुख्य कारण मुस्लिम बहुल क्षेत्रो में टिकाकरण के प्रति जागरूकता का अभाव देखा गया है। यह स्थिति केवल अकेले रतलाम की नहीं बल्कि पूरे देश में बनी हुई है। सोशल मीडिया व बोली गयी अफवाहों ने मुस्लिम लोगो के बीच टिके को लेकर असमंजस बना दिया है। जो देश के टीकाकरण के लक्ष्य में बाधा बन रहा है। सूत्रों की माने तो टीकाकरण को लेकर असमंजस बनाने वालों में कई कथित मुस्लिम धर्म गुरुओं व नेताओ का भी हाथ है जो सरकार के विरोध करने के चलते कोरोना के टीके पर भी गलत प्रक्रिया दे चुके हैं। हालांकि यही तथाकथित लोग बाद में टिका लगवाते भी नजर आये।

शहर के नवीन कलेक्टोरेट में कलेक्टर श्री कुमार पुरुषोत्तम के निर्देश पर आयोजित बैठक में एसडीएम शहर श्री अभिषेक गहलोत द्वारा वैक्सीनेशन कार्यक्रम की जानकारी देते हुए आग्रह किया गया कि मुस्लिम बहुल क्षेत्रों में मुस्लिम समाज के प्रबुद्धजन अधिकाधिक वैक्सीनेशन के लिए लोगों को समझाईश देवे। बैठक में डॉ. एम.ए. कुरेशी, डब्ल्यूएचओ के सर्विलेंस मेडिकल ऑफिसर डॉ. रितेश बजाज, श्री आसिफ काजी, श्री मुबारिक आर.आर. खान, श्री मुबारिक शैरानी, श्री सलीम मेव, जिला टीकाकरण अधिकारी डॉ. वर्षा कुरील, तहसीलदार श्रीमती अनीता चौकोटिया आदि उपस्थित थे।

बैठक में एसडीएम श्री गहलोत ने बताया कि रतलाम शहर में 45 प्लस के 80 हजार व्यक्तियों के टीकाकरण के लक्ष्य के विरुद्ध अभी 22 हजार व्यक्तियों का टीकाकरण शेष है। इसके अलावा 18 प्लस के डेढ़ लाख व्यक्तियों का टीकाकरण किया जाना है। इनमें से 32 हजार का टीकाकरण हुआ है। एसडीएम ने मुस्लिम प्रबुद्धजनों से आग्रह किया कि वे प्रो-एक्टिव होकर मुस्लिम बहुल क्षेत्रों में शत-प्रतिशत व्यक्तियों का टीकाकरण करवाएं। इसके लिए जहां कैंप लगाने आवश्यक होंगे प्रशासन द्वारा कैंप लगाए जाएंगे। आप लोग अपने क्षेत्रों में स्थान चिन्हित करें। डॉ. बजाज द्वारा कोविड-19 संक्रमण के बारे में जानकारी दी गई। एसडीएम ने कहा कि हमें अब कोरोना की विकट स्थिति उत्पन्न नहीं होने देना है इसके लिए जरूरी है कि सभी व्यक्ति टीका लगवाएं। बैठक में डॉ. एम.ए. कुरेशी, श्री आसिफ काजी, श्री मुबारिक आर.आर. खान, श्री मुबारिक शैरानी, श्री सलीम मेव द्वारा भी अपने सुझाव एवं विचार रखे गए।

Please enable JavaScript in your browser to complete this form.
Name
Latest news
Related news