रतलाम : जावरा के कमानी गेट पर हुए गोलीकांड का हुआ खुलासा

A+A-
Reset
google news

मामले की गम्भीरता को देखते हुए एसपी द्वारा 6 टीमो का किया गया था गठन, व्यापारी को पूर्व में आया था धमकी भरा फ़ोन, फरार मास्टरमाइंड का अंतरराज्यीय गिरोह से सम्बन्ध, मामले में 3 आरोपी गिरफ्तार मुख्य आरोपियों की तलाश जारी

रतलाम : जावरा के कमानी गेट पर हुए गोलीकांड का हुआ खुलासा

रतलाम इंडियामिक्स न्यूज़ जिले के जावरा में सिटी थाना क्षेत्र अंतर्गत कमानी गेट पर मंगलवार के दिन हुई गोलीबारी की घटना में एक व्यापारी को गोली मारने से क्षेत्र में सनसनी फैल गयी थी। पुलिस ने उक्त घटना का एक दिन बाद ही खुलासा करते हुए तीन आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है तथा मुख्य आरोपी अब भी फरार है।

गुरुवार को हुई प्रेस वार्ता के दौरान रतलाम पुलिस अधीक्षक गौरव तिवारी ने जानकारी देते हुए बताया की 14 जुलाई शाम 5:30 कमानी गेट,जावरा पर किराना व्यापारी पर बाइक पर आये अज्ञात बदमाशों ने गोली चला दी थी। जिससे व्यापारी के पेरो में तीन गोलिया लगी और वह गंभीर रूप से घायल हो गया था जिसे प्राथमिक उपचार के बाद रतलाम रेफर किया गया था। मामले की गंभीरता को देखते हुए एसपी गौरव तिवारी ने अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक और जावरा के दोनों थाना प्रभारी ,नामली थाना प्रभारी ,ताल थाना प्रभारी समेत कई अन्य थानों और साईबर सेल के नेतृत्व में 6 टीमें बनाई।

कुछ दिन पहले धमकी भरा फ़ोन आया था

एसपी ने बताया की वारदात में घायल हातिम अली बोहरा के पास एक माह पूर्व 17 जून को धमकी भरा फोन आया था फ़ोन पर 25 लाख रुपयों की मांग की गई थी तथा रुपये ना देने पर आरोपी ने गोली मारने की धमकी भी दी थी जिसकी सूचना उसने पुलिस को नहीं दी थी। जिसके बाद आरोपियों ने इस गोलीकांड को अंजाम दिया। पुलिस ने व्यापारी हातिम के पास आये फोन नंबर की जांच के साथ ही सीसीटीवी फुटेज भी खंगाले और मुखबिर तंत्र को सक्रिय कर दिया था। जिसके आधार पर पुलिस द्वारा एक दर्जन से भी अधिक संदिग्ध और गुंडे बदमाशों से पूछताछ की गई।


एसपी द्वारा गठित की गई टीमों द्वारा इंदौर, उज्जैन, निंबाहेड़ा, प्रतापगढ़, महिदपुर, बांसवाड़ा तथा मंदसौर में दबिश दी गई और सीसीटीवी फुटेज में दिख रहे हुलिए के बारे में जानकारी लेने का प्रयास किया। इस दौरान पुलिस के द्वारा चयनित किए गए कुछ लोगों के घरों पर ना मिलने और घटना में निश्चित रूप से किसी स्थानीय व्यक्ति का हाथ होने की आशंका पर स्थानीय बदमाशों के घरों पर तलाश शुरू की गयी।


इस दौरान संदिग्धों की सूची में शामिल असलम उर्फ़ असलम हड्डी पिता अहमद अली 20 वर्षीय निवासी काजी गली जावरा तथा शादाब पिता युसूफ खान 19 वर्षीय निवासी काजी गली जावरा अपने घरों पर नहीं मिले और इन दोनों के परिजनों के बारे में भी किसी को कोई जानकारी नहीं मिली थी।

इसके बाद मुखबिर की सूचना पर पुलिस ने मामू साहब की दरगाह से दोनों आरोपियों को हिरासत में लिया और दोनों सख्ती से पूछताछ की गई और जिसके बाद दोनों ने घटना में शामिल होना कुबूल किया।


आरोपीयो से पूछताछ के दौरान पुलिस को पता चला कि घटना में शामिल अन्य आरोपी अरशद पिता आरिफ खान मेव निवासी खिलचीपुरा मंदसौर का है। पुलिस ने आरोपी की निशानदेही पर घटना में शामिल तीसरे आरोपी को भी गिरफ्तार कर लिया।

वहीं तीनो गिरफ्तार आरोपियों ने पुलिस को बताया की वारदात में शामिल आरोपी शाहनवाज पिता शब्बीर पठान निवासी टोटी मंदसौर तथा अज्जू उर्फ अजर पिता जाहिर मिर्जाबेग बारी मोहल्ला प्रतापगढ़ भी शामिल थे, जो की फ़िलहाल फ़रार है। पुलिस के अनुसार घटना में शामिल दोनों फरार आरोपी अंतरराज्यीय गिरोह में शामिल होने की जानकारी मिली है। पुलिस घटना के दोनों मास्टरमाइंड की तलाश कर रही है।

Rating
5/5

 

इंडिया मिक्स मीडिया नेटवर्क २०१८ से अपने वेब पोर्टल (www.indiamix.in )  के माध्यम से अपने पाठको तक प्रदेश के साथ देश दुनिया की खबरे पहुंचा रहा है. आगे भी आपके विश्वास के साथ आपकी सेवा करते रहेंगे

Registration 

RNI : MPHIN/2021/79988

MSME : UDYAM-MP-37-0000684

मुकेश धभाई

संपादक, इंडियामिक्स मीडिया नेटवर्क संपर्क : +91-8989821010

©2018-2023 IndiaMIX Media Network. All Right Reserved. Designed and Developed by Mukesh Dhabhai

-
00:00
00:00
Update Required Flash plugin
-
00:00
00:00