INDIAMIX
Voice of Democracy

देवास : मप्र पटवारी संघ ने विभिन्न समस्याओं के निराकरण के लिए जिलाधीश को ज्ञापन सौंपा

जिला कई योजनाओं में प्रदेश में अग्रणी रहा है। राजस्व विभाग की रीढ की हड्डी कहे जाने वाले पटवारियों की कई समस्याएं है जिनका निराकरण नहीं हो रहा है।

देवास : मप्र पटवारी संघ ने विभिन्न समस्याओं के निराकरण के लिए जिलाधीश को ज्ञापन सौंपा

देवास / इंडियामिक्स न्युज बीएसएनएल की टूजी सीम तीन साल पहले दी गई थी, इंटरनेट चलता ही नहीं है। आज कल सभी चीज ऑनलाइन हो गई है, ऐसे में कैसे काम करें। ये पीड़ा पटवारियों ने बुधवार को अधिकारियों को बताई। संघ के बैनर तले मिले पटवारियों ने अपनी मांगों को लेकर एक माह का समय दिया है। इसके बाद प्रांत स्तर पर समस्या को ले जाया जाएगा और फिर आगे आंदोलन की रणनीति बनाई जाएगी।

मप्र पटवारी संघ ने विभिन्ना समस्याओं के निराकरण के लिए जिलाधीश को ज्ञापन सौंपा। ज्ञापन में बताया गया कि देवास जिले के समस्त पटवारी शासन की सभी योजनाओं का क्रियान्वयन पूर्णतः ईमानदारी व समय पर बिना पर्याप्त संसाधनों के पूर्ण कर रहे हैं। जिला कई योजनाओं में प्रदेश में अग्रणी रहा है। राजस्व विभाग की रीढ की हड्डी कहे जाने वाले पटवारियों की कई समस्याएं है जिनका निराकरण नहीं हो रहा है। जिलाध्यक्ष धर्मेंद्र चौबे ने बताया कि जिले के 2018 में पदस्थ पटवारियों की परीविक्षा अवधि समाप्त की जाना व स्थायीकरण किया जाना शेष है। सिर्फ अनुभाग देवास के 2018 बेच के पटवारियों की परीविक्षा अवधि समाप्त करके स्थायीकरण आदेश किया गया है जबकि अन्य अनुभागों में यह प्रक्रिया लंबित है। अन्य अनुभगों में भी 2018 बेच के पटवारियों की परीविक्षा अवधि को समाप्त कर स्थायीकरण आदेश दिए जाए। 2018 में पदस्थ पटवारियों को शासन योजना अंतर्गत दिए जाने वाले मोबाइल व सीम प्रदान की जाए। जिले में पदस्थ समस्त पटवारियों को एक साथ लेपटाप, मोबाइल सीम का वितरण किया जाए ताकि सभी पटवारियों को संसाधन उपलब्ध हो सके जिससे कि शासन की योजनाओं का क्रियान्वयन समय पर हो सके।

ज्ञापन में कहा कि जिले में कई पटवारियों का समयमान वेतनमान नहीं मिला है तथा कई पटवारियों को कई महीनों से वेतन नहीं मिला है। पटवारी प्रियंका राजोरिया की मेडिकल लीव जनवरी-फरवरी 2020 व मातृत्व अवकाश 5 मई से 28 सितंबर 2020 अभी तक नहीं दिया गया है। इसी प्रकार पटवारी अर्जुन मुकाती को वेतनमान नहीं दिया गया है। पटवारी भारत डाबर का अभी तक वेतन निर्धारण नहीं हुआ है। खातेगांव तहसील के पटवारी राजेश धान्वे को दुर्भावनावश निलंबित कर विभागीय जांच कायम की गई थी। जिसकी जांच को समाप्त किया जाए। सभी तहसीलों में 2018 व 19 के महंगाई भत्तों का एरियर बकाया है तथा प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के तहत प्रत्येक पटवारियों को 18 रुपये प्रति खाता मानदेय की राशि दी जाना शेष है। जिले के समस्त पटवारियों की जीपीएफ पासबुक संधारित की जाना शेष है। जिसे तत्काल संधारित किया जाए तथा द्वितीय प्रति प्रत्येक पटवारी को दी जाए। सोनकच्छ की पटवारी हिमानी शर्मा का विगत दिनों ड्यूटी के दौरान एक्सीडेंट में निधन हो गया है, उनके परिवार को आज तक वित्तीय सहायता व अनुकंपा नियुक्ति नहीं मिली है, उनके परिवार को तुरंत वित्तीय सहायता व अनुकंपा नियुक्ति दी जाए। सीएम हेल्प लाइन में संतुष्टि पूर्वक जवाब देने के बाद भी पटवारियों पर शिकायतकर्ता को दबाव बनाकर शिकायत बंद करने का दबाव बनाया जाता है जिसे तुरंत रोका जाए। पटवारी शासन द्वारा स्थानीय प्रशासन के निर्देश व योजनाओं का कार्य समय सीमा में पूर्ण करते हैं। पटवारियों द्वारा डीएस कार्यो को भी समय सीमा में किए जाने के लिए अधिकारी वर्ग व लिपिक वर्ग को निर्देशित किया जाए तथा पटवारियों की समस्त समस्याओं को जल्द से जल्द हल किया जाए। इस अवसर पर जिले के समस्त पटवारी उपस्थित थे।

Leave A Reply

Your email address will not be published.