16.1 C
Ratlām

जयपुर : सुरगखोद चांदी चुराने वाला मास्टरमाइंड पुलिस गिरफ्त में उत्तराखंड से शेखर अग्रवाल व उसका भांजा जतिन जैन गिरफ्तार

शेखर अग्रवाल पर करीब 4,5 करोड़ का कर्जा था इसको चुराने के लिए सुनाने के लिए रकम की व्यवस्था नहीं हुई तब उसने अपने रिश्तेदार जतिन और परिचित बनवारी लाल जांगिड़ के साथ मिलकर डॉक्टर सुनीत सोनी के घर मैं चांदी चुराने की योजना बनाई।

जयपुर : सुरगखोद चांदी चुराने वाला मास्टरमाइंड पुलिस गिरफ्त में उत्तराखंड से शेखर अग्रवाल व उसका भांजा जतिन जैन गिरफ्तार

जयपुर IMN : जयपुर में वैशाली नगर हेयर ट्रांसप्लांट सर्जन डॉक्टर सुनील सोनी के घर से 540 किलो वजनी चांदी की 18 सिलिया चुराने वाले मास्टरमाइंड शेखर अग्रवाल और उसके भांजे चेतन जैन को आखिरकार पुलिस ने गिरफ्तार किया उत्तराखंड से गिरफ्तार कर लिया है 23 जनवरी को 26 फीट लंबी सुरंग बनाकर वारदात को अंजाम दिया गया था। दोनों आरोपी करीब 3 करोड़ की चांदी की चोरी के बाद से फरार चल रहे थे उत्तराखंड में छिपे दोनों नेपाल भागने की फिराक में थे इसके पहले की जयपुर पुलिस की स्पेशल टीम डीएसटी ने दोनों को धर दबोचा।

पूछताछ में सामने आया कि शेखर अग्रवाल पर करीब 4,5 करोड़ का कर्जा था इसको चुराने के लिए सुनाने के लिए रकम की व्यवस्था नहीं हुई तब उसने अपने रिश्तेदार जतिन और परिचित बनवारी लाल जांगिड़ के साथ मिलकर डॉक्टर सुनीत सोनी के घर मैं चांदी चुराने की योजना बनाई। एसओजी ने चांदी की लगभग 10 सिलिया बरामद कर 9 लोगों को गिरफ्तार कर लिया था एसओजी की टीम भी शेखर अग्रवाल की तलाश में जुटी थी ।

अतिरिक्त पुलिस कमिश्नर अजय पाल लांबा ने बताया कि गिरफ्तार शेखर अग्रवाल 38 श्याम नगर का रहने वाला है वह बड़ी चौपड़ पर मेहंदी का चौक मैं पिछले 10 साल से एनजे बुलियस एड आर्नामेंटस के नाम से फर्म चलाकर गैलरी कारोबार करता है उसका भांजा जतिन जैन भी कारोबारी है वह सीताबाड़ी सांगानेर में रहता है ।

पूछताछ में सामने आया कि 2018 मैं शेखर की डॉक्टर सुनीत सोनी से मुलाकात हुई थी तब सुनीत ने रुपए इन्वेस्टमेंट के लिए चांदी खरीद कर निर्भय शुरू किया । शेखर ने जून 2018 से सितंबर 2020 तक सुनीत सोनी को चांदी की 30 सिलिलया दिलवाई थी एक सिल्ली का वजन करीब 30 किलो था। इसके अलावा पहले करीब 35 सिलिया सुनीत के पास रखी थी स्कोर शेखर अग्रवाल के परिचित बनवारी जांगिड़ की मदद से बेसमेंट में दीवार के नीचे बॉक्स बनवाकर रखवाया गया था ।

डीसीपी प्रदीप मूवी शर्मा के अनुसार पूछताछ में शेखर ने बताया कि उस पर करीब 4, 5 करोड़ रुपए का कर्जा था। अपनी परेशानी बनवारी जांगिड़ को बताई। तब उसने डॉक्टर सुनीत सोनी के घर से चांदी चुराने का सुझाव दिया। इसके बाद शेखर अग्रवाल ने बनवारी लाल के मार्फत डॉ सुनीत के पीछे खाली भूखंड को जनवरी 2021 के पहले सप्ताह में 95 लाख रुपए में खरीदा। इसके बाद शेखर अग्रवाल ने डॉ सुनीत सोनी के यहां क्लीनिक में स्टॉप आशीष से पता लगाया कि डॉक्टर ने चांदी दीवार के बजाय अब बेसमेंट में कॉन्फ्रेंस रूम में जमीन में छिपा दी है।

तब करीब 1 सप्ताह तक खुदाई की

10 फरवरी को काम रोक दिया। 11 फरवरी को कालूराम, बनवारी लाल जांगिड़, रामकरण, नईम, जाकिर व मुनासिफ ने लोहे के बक्से को काटकर 17 सिलिया चुरा ली। उनको लेकर अमरपाली मार्ग पहुंचकर शेखर अग्रवाल की गाड़ी में रख दी। जिन कारोबारियों से शेखर अग्रवाल ने उधार लिए थे कौन है यह सिलिया दे दी। फोटो शेखर अग्रवाल एवं भांजा जतिन अग्रवाल

Please enable JavaScript in your browser to complete this form.
Name
Latest news
Related news